yojana

  • Sep 5 2018 9:54AM

दिव्यांगजनों के सशक्तीकरण के लिए राष्ट्रीय पुरस्कार

दिव्यांगजनों के सशक्तीकरण के लिए राष्ट्रीय पुरस्कार

पंचायतनामा डेस्क

दिव्यांगजनों को उनके उत्कृष्ट कार्य एवं उनके सशक्तीकरण के क्षेत्र में कार्य करनेवाले व्यक्तियों एवं संगठनों को राष्ट्रीय पुरस्कार प्रदान किये जाते हैं. इसका उद्देश्य प्रेरित कर दिव्यांगों को सशक्त करना है. ये पुरस्कार हर साल तीन दिसंबर को अंतरराष्ट्रीय दिव्यांग दिवस पर प्रदान किये जाते हैं

14 श्रेणियों के तहत मिलता पुरस्कार
-
सर्वश्रेष्‍ठ दिव्‍यांग कर्मचारी/ निजी व्‍यवसायी, जिसमें सर्वश्रेष्ठ नियोक्ता, सर्वश्रेष्‍ठ भर्ती अधिकारी या एजेंसी, सर्वश्रेष्ठ व्यक्ति और दिव्‍यांगजनों के कल्‍याण में कार्य करने वाला सर्वश्रेष्ठ संस्थान मुख्य है.
-
अनुकरणीय व्‍यक्ति
-
दिव्‍यांगजनों के जीवन में सुधार लाने के उद्देश्य से किया गया सर्वश्रेष्‍ठ व्‍यावहारिक अनुसंधान या नवाचार या उत्पाद विकास
-
दिव्‍यांग व्यक्तियों के लिए बाधा रहित वातावरण तैयार करने में उत्कृष्ट कार्य
-
पुनर्वास सेवाएं प्रदान करने वाला सर्वश्रेष्‍ठ जिला
-
राष्ट्रीय विकलांग वित्त एवं विकास निगम का श्रेष्ठ राज्य
-
असाधारण रचनात्मक दिव्‍यांग वयस्क व्यक्ति
-
असाधारण रचनात्मक दिव्‍यांग बच्‍चा
-
सर्वश्रेष्‍ठ ब्रेल प्रेस
-
सर्वश्रेष्ठ सुगम्‍य वेबसाइट
-
दिव्‍यांगजन सशक्तीकरण को बढ़ावा देने में सर्वश्रेष्ठ राज्य
-
सर्वश्रेष्‍ठ दिव्‍यांग खिलाड़ी

नोडल विभाग की तरह करता कार्य
दिव्यांगजन सशक्तीकरण विभाग दिव्यांगजनों से संबंधित कार्यक्रमों की समग्र नीति, आयोजन तथा समन्वय के लिए नोडल विभाग होगा. इस समूह के संबंध में क्षेत्रीय कार्यक्रमों के समग्र प्रबंधन और निगरानी आदि का उत्तरदायित्व संबंधित राज्य सरकार का होगा. हर विभाग अपने क्षेत्र से संबंधित नोडल उत्तरदायित्व का निर्वहन करेगा.

कहां करें आवेदन
इच्छुक दिव्यांग लाभार्थी अपना पूरा भरा हुआ आवेदन अपने-अपने जिले के दिव्यांगजन सशक्तीकरण कार्यालय में जमा करा सकते हैं. इस संबंध में अधिक जानकारी के लिए केंद्र सरकार के दिव्यांगजन सशक्तीकरण विभाग की वेबसाइट www.disabilityffairs.gov.in से भी प्राप्त कर सकते हैं.