gram savraj

  • Dec 31 2018 3:44PM

असीम सुंदरता बिखेरता हीरादह धाम

असीम सुंदरता बिखेरता हीरादह धाम

पंचायतनामा डेस्क
गुमला

गुमला जिला अंतर्गत रायडीह प्रखंड क्षेत्र का एक धार्मिक स्थल है हीरादह धाम. यहां भगवान भास्कर का मंदिर है. इसके साथ ही भगवान जगन्नाथ का छोटा सा मंदिर भी है. शंख नदी के किनारे अवस्थित होने के कारण यहां पानी की कल-कल करती आवाज श्रद्धालुओं का मनमोह लेती है. यहां नदी पूरे वेग से बहती है. मंदिर के पीछे बड़े चट्टान का समतल मैदान है. पानी के बहाव के कारण यह चिकना और समतल हो गया है. इसके कारण यह अपने आप में अनोखा प्रतीत होता है. इतना ही नहीं, पानी के तेज घुमाव के कारण बीच चट्टान पर छोटे-बड़े कुंड बने हुए हैं, जो इस बात की गवाही देने के लिए काफी हैं कि शंख नदी और नदी के रास्ते में पड़ने वाले चट्टान का संघर्ष सदियों पुराना है. चट्टान में बने कुंड 10 फीट तक गहरे हैं और उनमें पानी भरा हुआ है. हर साल 14 जनवरी को यहां मकर संक्राति के अवसर पर विशाल मेला लगता है. जीवन में कितनी भी कठिनाई हो, निरंतर प्रयास से आप जरूर आगे बढ़ सकते हैं.

यहां रखें सावधानी
हीरादह धाम के पास के चट्टान के समतल मैदान में कई कुंड हैं. इस कुंड में घुसने की मनाही है, क्योंकि यह जानलेवा साबित हो सकता है. अंदर में और फिसलन हो सकती है. साथ ही उसके अंदर गुफानुमा छेद भी हो सकता है, जिससे पानी अंदर प्रवेश करता और बाहर निकलता है. देखने में यह कुंड बेहद ही खूबसूरत दिखाई देता है और पिकनिक स्पॉट की तरह है.

कैसे पहुंचें हीरादह धाम
राजधानी रांची से ढाई घंटे के सफर के बाद आप यहां पहुंच सकते हैं. रांची से गुमला आने के बाद आपको गुमला के मांझाटोली से बायें मुड़ें. बायें मुड़कर आगे जाने के बाद रायडीह गांव से आगे जाने के बाद रमजा गांव पहुंचा जाता है. रमजा गांव के अंदर प्रवेश कर आप सीधा हीरादह धाम पहुंच सकते हैं.