badte gaao

  • Aug 18 2018 10:07AM

पर्यावरण संरक्षण को जन आंदोलन बना रहे हैं राजाडेरा के ग्रामीण

पर्यावरण संरक्षण को जन आंदोलन बना रहे हैं राजाडेरा के ग्रामीण

प्रखंड : अनगड़ा
जिला : रांची

जीतेंद्र कुमार

रांची जिला अंतर्गत अनगड़ा प्रखंड की राजाडेरा पंचायत के ग्रामीणों ने पर्यावरण संरक्षण को जन आंदोलन बना दिया है. इसके तहत ग्रामीण न सिर्फ पौधे एवं पेड़ों को काटने से बचा रहे हैं, बल्कि काफी संख्या में पौधे भी लगा रहे हैं. ग्रामीण अब तक व्यक्तिगत रूप से व विभिन्न सरकारी योजनाओं के जरिये पंचायत क्षेत्र में करीब 10 हजार फलों व इमारती लकड़ियों के पौधे लगा चुके हैं. इस जन आंदोलन का नेतृत्व मुखिया मोतीराम मुंडा, पारसनाथ उरांव, पवन चौधरी, नागेश्वर महतो, प्रदीप उरांव, शिव महतो, बबलु मुंडा, सितम मुंडा जैसे युवा कर रहे हैं.

पंचायत क्षेत्र में लगे तीन हजार सागवान के पौधे : मुखिया
मुखिया मोतीराम मुंडा कहते हैं कि राजाडेरा पंचायत क्षेत्र में अबतक सर्वाधिक सागवान के करीब तीन हजार पौधे पारसनाथ उरांव ने लगाया व उन्हें संरक्षित भी किया है. पंचायत में ग्रामीणों की हर बैठक में उन्हें पर्यावरण संरक्षण के लिये जागरूक किया जाता है.

पेड़ों को बचाने के प्रति लोगों का नजरिया
1.
पेड़-पौधे नहीं होंगे, तो हमारा अस्तित्व भी नहीं होगा. इस बात को राजाडेरा पंचायत क्षेत्र के ग्रामीण समझ चुके हैं.
पवन चौधरी, वन प्रेमी

2.
पूर्व में राजाडेरा पंचायत क्षेत्र में लकड़ी का कारोबार मुख्य व्यवसाय हुआ करता था. फर्नीचर निर्माण व खाना बनाने के लकड़ियों के लिए यहां हर दिन पेड़-पौधों को नुकसान पहुंचाया जाता था. लकड़ी तस्कर भी इस क्षेत्र में हावी थे. इसके खिलाफ जागरूकता अभियान चलाया गया. इसका असर अब देखने को मिल रहा है.
 
नागेश्वर महतो, पर्यावरण संरक्षण अभियान के अगुआ

3.
लकड़ी तस्करों के खिलाफ लगातार चले अभियान का असर अब दिख रहा है. पेड़-पौधों को नुकसान पहुंचाने से पहले लोग इसके अंजाम को समझ रहे हैं.
आरके सिंह, रेंजर

4.
जन सहयोग से ही क्षेत्र में लकड़ी तस्करी के अवैध कारोबार को पूर्णरूप से बंद करा दिया गया है.
रामबाबू मंडल, थानेदार

5.
पर्यावरण संरक्षण की दिशा में प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना मील का पत्थर साबित हो रही है. इस योजना से ग्रामीणों के जलावन की समस्या खत्म हो गयी है, जिससे पेड़-पौधे संरक्षित रह रहे हैं.
जैलेंद्र कुमार, उपाध्यक्ष, जिला बीस सूत्री