aamukh katha

  • Dec 2 2019 5:18PM

झारखंड का सबसे ऊंचा फॉल लोध

झारखंड का सबसे ऊंचा फॉल लोध

आशीष टैगोर

लातेहार जिला अंतर्गत महुआडांड़ का लोध जलप्रपात. यह झारखंड का सबसे ऊंचा जलप्रपात है. महुआडांड़ प्रखंड स्थित यह जलप्रपात महुआडांड़ भेड़िया आश्रयणी क्षेत्र में पड़ता है. बूढ़ा नदी पर होने के कारण इसे बूढ़ा घाघ भी कहते हैं. समुद्र तल से इसकी ऊंचाई 800 मीटर है. यहां 143 मीटर (472 फीट) की ऊंचाई से पानी नीचे गिरता है. इतनी ऊंचाई से गिरते पानी को देखने का आनंद ले सकते हैं. इसका क्षेत्रफल लगभग 63 वर्ग किमी है. यह बेतला-चटकपुर मार्ग पर लोध गांव के पास पड़ता है. लोध जलप्रपात के आसपास साल (सखुआ) के घने जंगल हैं. उन जंगलों के बीच से कल-कल करते बहते इस जलप्रपात के पानी के मधुर संगीत का अलग अहसास है.

एेेसे आइए

रांची से लगभग 120 किमी दूर महुआडांड़ में है लोध जलप्रपात. महुआडांड़ से 15 किलोमीटर की दूरी पर उत्तर-पश्चिम दिशा में जाने पर आपको लोध जलप्रपात का नजारा देखने को मिलेगा.