aadhi aabadi

  • May 4 2019 2:08PM

रानी मिस्त्री पहल को मिला सम्मान

रानी मिस्त्री पहल को मिला सम्मान

पंचायतनामा टीम
जिला: रांची

झारखंड स्टेट लाइवलीहुड प्रमोशन सोसाइटी (जेएसएलपीएस) ग्रामीण विकास विभाग, झारखंड सरकार को स्पेशल रिकग्निशन अवार्ड फॉर गवर्नमेंट से सम्मानित किया गया. जेएसएलपीएस को यह सम्मान दीनदयाल अंत्योदय राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत शुरू किये गये रानी मिस्त्री की अनूठी पहल के लिए दिया गया है. इंडिया सैनिटेशन कोएलिशन-फिक्की की ओर से नयी दिल्ली के फिक्की हाउस में आयोजित आइएससी-फिक्की सैनिटेशन अवार्ड एवं इंडिया सैनिटेशन कॉन्क्लेव में जेएसएलपीएस को यह सम्मान दिया गया

रानी मिस्त्री का सराहनीय कार्य
जेएसएलपीएस द्वारा प्रशिक्षित रानी मिस्त्री के मजबूत कैडर ने स्वच्छ भारत मिशन-ग्रामीण के तहत सराहनीय कार्य करने के साथ-साथ ग्रामीण झारखंड को खुले में शौचमुक्त बनाने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभायी है. कार्यकम के दौरान फिक्की के अध्यक्ष संदीप सोमानी एवं इंडिया सैनिटेशन कोएलिशन चेयरपर्सन नैना लाल किदवई ने जेएसएलपीएस के प्रतिनिधियों को पुरस्कार दिया.

यह भी पढ़ें: किसान और कंपनी प्रतिनिधियों के बीच सीधा संवाद, मांग-उत्पादन की बढ़ी समझ

कैसे मिला सम्मान
जनवरी, 2019 में इंडिया सैनिटेशन कोएलिशन द्वारा सैनिटेशन अवार्ड के लिए विभिन्न श्रेणियों के अंतर्गत प्रविष्टियां आमंत्रित की गयी थीं. जेएसएलपीएस द्वारा बेस्ट नॉन-प्रॉफिट एंगेजमेंट मॉडल इन सैनिटेशन सेक्शन के अंतर्गत आवेदन किया गया था और इसी श्रेणी में जेएसएलपीएस के रानी मिस्त्री पहल को सम्मानित किया गया है. इस सम्मान से जहां रानी मिस्त्री का कार्य कर रहीं ग्रामीण महिलाओं को प्रोत्साहन मिलेगा, वहीं समाज में व्याप्त लैंगिक असमानता को भी खत्म करने में काफी मदद मिलेगी.

कौन है रानी मिस्त्री
झारखंड में जेएसएलपीएस द्वारा संचालित सखी मंडल की महिला सदस्य रानी मिस्त्री बनी है. राज्य की ग्रामीण महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के उद्देश्य से आजीविका मिशन सखी मंडल की महिलाओं की जिंदगी बदल रही है. सखी मंडल से जुड़कर दीदियां हर क्षेत्र में बखूबी कार्य कर रही हैं. स्वच्छ भारत मिशन के तहत सखी मंडल की दीदियां अपने-अपने क्षेत्र में स्वच्छता पर विशेष जोर दे रही हैं. इसी कड़ी में सखी मंडल की दीदियां रानी मिस्त्री बन कर शौचालय निर्माण में महती भूमिका निभा रही हैं. जेएसएलपीएस ने ग्रामीण महिलाओं को प्रशिक्षण देकर हुनरमंद बनाया है. राज्य में सखी मंडल की 55 हजार महिला सदस्य रानी मिस्त्री बन कर स्वच्छता का संदेश फैला रही हैं. स्वच्छ भारत मिशन के तहत हो रहे शौचालय निर्माण में सखी मंडल की महिलाएं खुद रानी मिस्त्री का काम कर रही हैं. इससे उन्हें अपने गांव में रोजगार तो मिल ही रहा है और पलायन भी रुक रहा है. सखी मंडल की 55 हजार रानी मिस्त्री करीब साढ़े तीन लाख शौचालयों के निर्माण में अपनी महती भूमिका निभा रही हैं. झारखंड की सखी मंडलों के जरिये शौचालय निर्माण में लगी रानी मिस्त्री के कार्य की प्रधानमंत्री ने मन की बात कार्यक्रम में तारीफ भी की थी.