aadhi aabadi

  • Jul 4 2019 5:47PM

आजीविका जनसेवा केंद्र का उद्घाटन

आजीविका जनसेवा केंद्र का उद्घाटन

सुनीता देवी
प्रखंड: कांके
जिला: रांची
 

रांची के कांके प्रखंड अंतर्गत नेवरी कलस्टर में आजीविका जनसेवा केंद्र का उद्घाटन किया गया. आजीविका जनसेवा केंद्र का उद्घाटन कांके विधायक जीतूचरण राम, पूर्व उप मुख्यमंत्री सुदेश महतो समेत कई गणमान्य लोगों ने किया. उद्घाटन समारोह को संबोधित करते हुए कांके विधायक जीतूचरण राम ने कहा कि स्वयं सहायता समूह से जुड़कर ग्रामीण महिलाओं का समूह गांवों की आर्थिक स्थिति को सुधारने का प्रयास कर रही है. समूह के गठन से महिलाओं को काफी फायदा हो रहा है. पहले महिलाएं घर के बाहर नहीं निकलती थीं. अब महिलाएं घर से बाहर जा रही हैं और आत्मनिर्भर बन रही हैं.

यह भी पढ़ें: पशु सखियों को दिया गया साड़ी और बैग

आजीविका जनसेवा केंद्र के फायदे बताते हुए विधायक जीतूचरण राम ने कहा कि पहले महिलाओं को किसी भी प्रकार के प्रमाण पत्र बनाने के लिए प्रखंड कार्यालय का चक्कर काटना पड़ता था, पर अब अपने कलस्टर में ही महिलाएं और ग्रामीणों के प्रमाण पत्र से संबंधित कार्य हो जायेंगे. सखी मंडल की महिलाएं ही आजीविका जनसेवा केंद्र में सेवाएं देंगी, जिससे ग्रामीणों को अपना काम कराने में काफी राहत मिलेगी. आजीविका जनसेवा केंद्र में जाति प्रमाण पत्र, आवासीय प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र, वृद्धा पेंशन, विधवा पेंशन जैसी सेवाएं उपलब्ध रहेंगी. जीतूचरण राम ने कहा कि ग्रामीण महिलाओं की मेहनत देखकर वह काफी खुश हैं. राज्य की महिलाएं बहुत मेहनती हैं. परिवार संभालते हुए समाज की सेवा भी कर रही हैं.

यह भी पढ़ें: जनता दरबार में मिली योजनाओं की जानकारी

पूर्व उप मुख्यमंत्री सुदेश महतो ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि पहले महिलाएं सिर्फ अपने परिवार का ध्यान रख पाती थीं, पर समूह से जुड़ने के बाद महिलाएं परिवार का ख्याल रखने के साथ-साथ घर के बाहर की जिम्मेदारी को भी अच्छे से निभा रही हैं और अपनी सूझबूझ से फैसले भी ले रही हैं. इस मौके पर सुदेश महतो ने नेवरी कलस्टर में 10 सिलाई मशीन देने की घोषणा की. उन्होंने महिलाओं के लिए सिलाई -बुनाई प्रशिक्षण की व्यवस्था का आश्वासन भी दिया. जिला परिषद सदस्य मीना देवी ने सुदेश महतो को धन्यवाद देते हुए कहा कि अगर सिलाई -बुनाई का प्रशिक्षण सखी मंडल की महिलाओं को दिया जायेगा, तो उनकी आय में बढ़ोतरी होगी. इस तरह से कार्य करते हुए राज्य की महिलाएं आगे बढ़ सकती हैं. उनके बच्चे को अच्छी शिक्षा मिलेगी. राज्य के गांवों से गरीबी खत्म हो जायेगी. मौके पर दीदियों ने विधायक जीतू चरण राम को एक मांग पत्र भी सौंपा.